Archive for જુલાઇ, 2020

Posted in गज़ल, hindi, Hindustani on જુલાઇ 25, 2020 by Asal Amdavadi

તમારું નામ/ઉપનામ : आपका नाम / उपनाम / तखल्लुस : कृष्ण बिहारी – ‘नूर’

ઇમેઇલ એડ્ડ્રેસ : ईमेल एड्रेस : asal.amdavadi@gmail.com

તમારી રચના અહીં લખો/પોસ્ટ કરો : आपकी रचना इधर लिक्खें / सबमिट करें :

ज़िन्दगी से बड़ी सज़ा ही नहीं
और क्या जुर्म है पता ही नहीं

इतने हिस्सों में बट गया हूँ मैं
मेरे हिस्से में कुछ बचा ही नहीं

ज़िन्दगी मौत तेरी मंज़िल है
दूसरा कोइ रास्ता ही नहीं

जड़ दो चाँदी में चाहे सोने में
आईना झूठ बोलता ही नहीं

अपनी रचनाओं में वो ज़िंदा है
‘नूर’ संसार से गया ही नहीं

कृष्ण बिहारी ‘नूर’

%d bloggers like this: